अटल आयुष्मान उत्तराखण्ड योजना के तहत अब तक 3 लाख 77 हजार 744 परिवारों के गोल्डन कार्ड बन चुके हैं।

  • टिहरी झील महोत्सव को अन्तर्राष्ट्रीय स्तर का स्वरूप दिया जायेगा।
  • टिहरी में कुल 221 करोड़ 81 लाख रूपये की योजनाओं का शुभारम्भ।
  • मुख्यमंत्री ने टिहरी में भी किया अटल आयुष्मान उत्तराखण्ड योजना का शुभारम्भ।
मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने नई टिहरी के प्रताप इण्टर कालेज प्रांगण में आयोजित कार्यक्रम में अटल आयुष्मान उत्तराखण्ड योजना का दीप प्रज्ज्वलित कर शुभारम्भ किया। उन्होंने कहा कि अटल आयुष्मान उत्तराखण्ड योजना के तहत अब तक 3 लाख 77 हजार 744 परिवारों के गोल्डन कार्ड बना दिये गये है। लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराना हमारी प्राथमिकता में शामिल हैं। अटल आयुष्मान उत्तराखण्ड योजना एक कल्याणकारी योजना हैं जिसके तहत प्रत्येक परिवार को 05 लाख रुपये तक के मुफ्त इलाज की सुविधा मिलेगी। इस योजना को प्रदेशभर में संचालित किया जा रहा हैं। अटल आयुष्मान उत्तराखण्ड योजना के अन्तर्गत प्रदेश के सभी 23 लाख परिवारों को लाभान्वित किया जायेगा। प्रतिदिन 35 हजार गोल्डन कार्ड बनाये जा रहे है। कोई भी व्यक्ति धनाभाव के कारण इलाज से वंचित न रहे, इस मकसद से यह योजना चलायी जा रही है और इस योजना का लाभ सभी वर्गो के लोगों को दिया जा रहा हैं। टिहरी जनपद के 11 अस्पताल अटल आयुष्मान योजना के अन्तर्गत चिह्नित हैं। जनपद टिहरी के 122 लोग अब तक इस योजना का लाभ ले चुके है। मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने लोगों से अपील की कि वे अपने आस-पास के सभी लोगों को गोल्डन कार्ड बनाने के लिए पे्ररित करें। ताकि अधिक से अधिक परिवार इस योजना से अच्छादित हो सके। उन्होने कहा कि हमने नई टिहरी के बौराड़ी स्थित जिला चिकित्सालय को पीपीपी मोड पर दिया हैं ताकि क्षेत्र के लोगों को स्वास्थ्य उपचार के लिए बाहर के क्षेत्रों में न जाना पड़े। उन्होने बताया कि 13 विशेषज्ञ डाॅक्टर बौराडी स्थित जिला चिकित्सालय में तैनात रहेंगें। जिले के दूरस्थ क्षेत्रों में 40 टेलीमेडिसन सेन्टर की स्थापना किये जाने पर जिलाधिकारी सोनिका को बधाई दी। मुख्यमंत्री ने अटल आयुष्मान उत्तराखण्ड योजना के तहत प्रतिमा, सर्वा देवी, अनिल प्रसाद बिजल्वाण, साधना रावत एवं आशा बहुगुणा को गोल्डन कार्ड वितरित किये।
 मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने टिहरी में कुल 221 करोड़ 81 लाख रूपये की लागत की कुल 89 योजनाओं का लोकापर्ण एवं शिलान्यास किया। जिनमें से 88 करोड़ 84 लाख रूपये से बनी 49 योजनाओं का लोकापर्ण एवं 132 करोड़ 97 लाख रूपये की लागत से बनने वाली 40 योजनाओं का शिलान्यास किया। जिन योजनाओं का लोकापर्ण व शिलान्यास किया गया वे ग्रामीण विकास, पीएमजीएसवाई, पेयजल निगम, शिक्षा, लोनिवि, कृषि, स्वास्थ्य, लघु सिंचाई एवं आयुर्वेदिक विभाग की योजनायें थी।   मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि मार्गो की दूरी कम करने के लिए राज्य में पुल निर्माण के कार्यों को गति दी जायेगी। राज्यभर से लगभग 200 पुलों की मांग हैं जिन्हें 2022 तक बनाया जायेगा। इस वर्ष 125 पुलों के निर्माण को स्वीकृति दी जायेगी। उन्होंने कहा कि जनपद टिहरी के डोबरा-चांठी पुल के शीघ्र निर्माण को ध्यान में रखते हुए एकमुश्त में 87 करोड़ रुपये जारी किये गये हैं। जल्द ही डोबरा-चांठी पुल जनता को समर्पित कर दिया जायेगा।
मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि इस वर्ष टिहरी झील महोत्सव को अन्तर्राष्ट्रीय स्तर का स्वरूप दिया जायेगा जिसमें 13 देशों के लोगों को आमंत्रित किया जायेगा। इससे पर्यटकों की आवाजाही होगी व स्थानीय लोगों के रोजगार में वृद्धि होगी। प्रदेश को सबसे अधिक लाभ पर्यटन से होता है इसलिए प्रदेश सरकार पर्यटन पर विशेष फोकस कर रही हैं। जनपद टिहरी में भी पर्यटन की अपार सम्भवनाए हैं। प्रत्येक वर्ष 25, 26 एवं 27 फरवरी को टिहरी झील महोत्सव का आयोजन किये जाने की योजना है। कृषि विकास के दृष्टिगत मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार किसान कल्याण योजना के अन्तर्गत  किसानों को जीरो प्रतिशत ब्याज पर लोन देने जा रही है। महिला समूहों को 5 लाख तक का लोन जीरो प्रतिशत ब्याज पर दिया जायेगा। विभिन्न योजनाओं को सफल बनाने के लिए सरकार जीरों टाॅलरेन्स पर कार्य कर रही हैं जिससे जनता के पैसे का सदुपयोग हो रहा हैं। जिसका लाभ जनता को मिल रहा है।
    उच्च शिक्षा राज्य मंत्री डाॅ. धन सिंह रावत ने कहा कि उत्तराखण्ड देश का पहला राज्य हैं जिसने प्रत्येक परिवार की चिन्ता करते हुए सभी वर्गो के परिवारों को अटल आयुष्मान उत्तराखण्ड योजना से जोड़ने की योजना बनायी है। उन्होने कहा कि हम 2019 को रोजगार वर्ष के रूप में मनाने जा रहे हैं। जिसके तहत विभिन्न विभागों में दस हजार से अधिक नियुक्तियां की जायेगीं।
     इस अवसर पर टिहरी सांसद माला राजलक्ष्मी शाह, जिला पंचायत अध्यक्ष सोना सजवाण, विधायक धन सिंह नेगी, विजय सिंह पंवार, शक्ति लाल शाह व विनोद कण्डारी, जिलाधिकारी सोनिका, एसएसपी योगेन्द्र सिंह रावत, आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *