उत्तराखंड : देहरादून में पढ़ रहे कश्मीरी छात्रों ने पुलवामा हमले के बाद लिखा कुछ ऐसा कि पढ़कर खौल उठा हर हिंदुस्तानी का खून

उत्तराखंड के देहरादून में रहकर पढ़ रहे कश्मीरी छात्र कैशर राशिद और सयैद मुसैल ने पुलवामा हमले में शहीद हुए 42 जवानों के लिए जो भी लिखा उसे पढ़कर हर हिंदुस्तानी का खून खौल जाएगा। गुरुवार को पुलवामा में हुए आतंकी हमले में भारत के 42  जवान  शहीद हुए इन जवानो को श्रदांजलि देने के वजाय लिखा कुछ ऐसा की हर यह खबर सुनकर   हिंदुस्तानी का खून खौल जायेगा।   उत्तराखंड में पढ़ रहे कश्मीरी छात्र ने कैशर राशिद के मैसेज के बाद राजधानी देहरादून में कोहराम मच गया है। गुरुवार को पुलवामा हमले के बाद कैशर ने यह मैसेज व्हाट्स पर वायरल किया था।

मामला बढ़ता देख कैशन ने अपने मैसेज को लेकर सोशल मीडिया पर माफी मांगी।जिसमे लिखा था –

जय हिंद दोस्तों …

जैसा कि आप सभी मित्र जानते हैं कि मैंने कल रात एक मूर्खतापूर्ण पोस्ट किया था

वह गलती से था

वास्तविक रूप से शुभचिंतकों व  सभी से कोई गलती नहीं की लेकिन

 इसके लिए माफी माँगता हूँ 

आई एम सॉरी,Iam  काश्मिरि  आइ लव इंडिया

मेरे दिल से ilove भारत, मैं गलत हूं

 सब गिर गया इसका मतलब कोई भी पूर्ण नहीं है …..
 भाइयों  यह गलती से था

जय हिंद दोस्तों …”

जिसके बाद कैशन को संस्थान ने निलंबित कर दिया। एसएसपी निवेदिता कुकरेती का कहना कि मामला उनके संज्ञान में है। जांच की जा रही है। सयैद मुसैल के खिलाफ  प्रेमनगर पुलिस में शिकायत दर्ज की गई है।

इस पर उत्तराखंड के पुलिस महानिदेश ने कहा है कि देहरादून में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है.  इसके साथ ही सोशल मीडिया पर भी नजर रखी जा रही है. कोई ऐसा पोस्ट न करने पाए, जिससे आराजकता फैले या हिंसक प्रदर्शन हों. उन्होंने बताया कि देहरादून के उन शिक्षण संस्थानों पर नजर रखी जा रही है, जिनमें जम्मू-कश्मीर के छात्र पढ़ते हैं.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *