उत्तराखंड : विश्व कैंसर दिवस पर ऋषिकेश में किया गया जन- जागरूकता कार्यकर्म का आयोजन, विशेषज्ञों द्वारा दी गयी कैंसर संबंधित महवत्वपूर्ण जानकारियां

सोमवार 4  फ़रवरी  को विश्व कैंसर दिवस के अवसर पर एम्स ऋषिकेश में जन-जागरूकता कार्यकर्म का आयोजन किया गया जहाँ मरीजों ,तिमामदारों नर्सिंग ऑफिसर्स  एवं,तमाम जनता को कैंसर के लक्षण और बचाव से सम्बंधित जानकारी दी गयी। तथा इस अवसर पर एम्स निर्देशक रवि कांत और  रेडिएशन ओंकॉलॉजी के विभागाध्यक्ष प्रो.मनोज गुप्ता ने लोगों को कैंसर से शुरुआती लक्षणों की जानकारी दी.

इस अवसर पर निदेशक एम्स प्रो. रवि कांत ने बताया कि इंटरनेशनल यूनियन अगेंस्ट कैंसर की ओर से घोषित विश्व कैंसर दिवस का मुख्य उद्देश्य जनजागरूकता अभियान से कैंसर की बीमारी और उससे बढ़ रही मृत्यु दर को कम करना है. उन्होंने बताया कि संस्थान में कैंसर के उपचार के लिए सभी आधुनिकतम सुविधाएं उपलब्ध हैं, जिनमें शल्य चिकित्सा, विकिरण चिकित्सा और कीमोथैरेपी आदि शामिल हैं. इसके अलावा एडवांस स्टेज के मरीजों के लिए पैलिएटिव केयर की सुविधा उपलब्ध है, जिससे रोगी का अवशेष जीवन आराम से व्यतीत हो सके. उन्होंने बताया कि अस्पताल में प्रतिदिन करीब 170 कैंसर रोगी आ रहे हैं, जिनमें लगभग 30 नए रोगी होते हैं.

वहीं रेडिएशन ओंकॉलॉजी के विभागाध्यक्ष प्रो.मनोज गुप्ता ने लोगों को कैंसर से शुरुआती लक्षणों की जानकारी दी. विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कैंसर के वार्निंग सिग्नल बताए. साथ ही उन्होंने बताया कि ऐसे लक्षण पाए जाने पर इसकी जल्दी जांच करानी चाहिए. उन्होंने निम्न लिखित लक्षणों पर चर्चा की
ये हैं कैंसर के दौरान दिखने वाले लक्षण
⦁मुहं में बार बार छाले,
⦁लंबे समय तक आवाज में परिवर्तन,
⦁काफी दिनों तक खांसी रहना और दवा लेने पर भी उसका ठीक नहीं होना,
⦁खांसी के साथ खून आना, स्तन में गांठ का होना,
⦁शरीर के किसी भी छिद्र से असामान्य रक्त स्राव होना, शरीर के किसी भी हिस्से में गांठ का तेजी से बढ़ना,
⦁पेशाब के रास्ते खून का स्राव आदि मुख्य हैं.
साथ ही उन्होंने यह भी बताया की उपयुक्त लक्षण में यदि कोई भी लक्षण दिखे तो जल्द ही अस्पताल में  इसकी जाँच कराये।

कैंसर से बचने के उपाय 

  • कैंसर से बचने के लिए आहार पर खास ध्यान दें।
  • तंबाकू और एल्कोहल का सेवन कैंसर की मुख्य वजहों में से हैं।
  • मांसाहारी भोजन का सेवन कम करना चाहिए।
  • शाकाहारी भोजन की मदद से शरीर को एंटीऑक्सीडेंट मिलते हैं।

आपको या आपके आसापास के लोगों को कैंसर की बीमारी के बारे में पता चलते ही गहरा सदमा लग सकता है। कैंसर जैसी गंभीर और जानलेवा बीमारी ने लोगों के दिल में डर पैदा कर दिया है। इस बीमारी से बचने के लिए आपको स्वस्थ जीवनशैली जीना बहुत जरूरी है। खाने में पौष्टिक आहार की कमी और अस्वस्थ आदतें कैंसर की बीमारी का खतरा पैदा करती हैं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *