पौड़ी का लाल, काशीपुर निवासी जसपाल सिंह शहीद, शहादत की खबर के बाद घर में कोहराम

उत्तराखंड: काशीपुर निवासी और मूल रूप से पोड़ी गढ़वाल,धुमाकोट ग्राम सागेडॉ के 27 असम राइफल्स के हवलदार पद पर तैनात जसपाल सिंह रावत हाई टेंशन लाइन की चपेट में आकर शहीद हो गए। वह 41 वर्ष के थे। जसपाल सिंह 27 असम राइफल्स में हवलदार के पद पर तैनात थे।

उनकी शहादत की खबर मिलते ही परिजनों में कोहराम मच गया। पत्नी बार बार बेसुध हो जा रही है, पड़ोसी और रिश्तेदार परिजनों को सांत्वना दे रहे हैं। 22 वर्ष पूर्व उनकी भर्ती शिलांग मेघालय से हुई थी। 19 जनवरी को डयूटी के दौरान वह एक स्थान से दूसरे स्थान को सीढ़ी लेकर जा रहे थे।

हाई टेंशन विद्युत लाइन की चपेट में आने से उनकी मौत हो गई। सोमवार को उनका शव काशीपुर लाया जाएगा। शहीद हवलदार के पिता राजेंद्र सिंह वर्ष 1995 में 6 मेकेनाइज गढ़वाल राइफल्स से सेवानिवृत्त हुए थे। परिवार में पत्नी उर्मिला के अलावा तीन पुत्रियां मोनिका,  सोनिका , अनामिका और पुत्र आकाश है। तीनो पुत्रियां शिवालिक होली माउंट व पुत्र मारिया असुम्पटा में पढ़ता है।

वह मई 2018 में दो माह की छुट्टी पर घर आये थे। उन्होंने कुछ दिन पूर्व काशीपुर आने को छुट्टी के लिए आवेदन किया था। उनकी छुट्टी स्वीकृत हो चुकी थी। वह अपने परिवार में आ पाते, इससे पहले ही उनकी शहादत की खबर आ गयी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *