वनडे मैचों में तीन दोहरे शतक जमा चुके रोहित शर्मा ने टी20 में किया यह बड़ा कारनामा…

कल के मैच के दौरान रोहित शर्मा और शिखर धवन की जोड़ी 12 रन के अंतर से एक बड़ा रिकॉर्ड अपने नाम करने से चूक गई. इन दोनों  बल्‍लेबाजों ने पहले विकेट के लिए 160 रन जोड़े. यदि ये दोनों 12 रन और बना लेते तो टी20 की सबसे बड़ी साझेदारी का रिकॉर्ड स्‍थापित कर लेते. यह रिकॉर्ड इस समय न्‍यूजीलैंड के मार्टिन गप्टिल और केन विलियमसन के नाम पर है. इन दोनों ने वर्ष 2016 में हेमिल्‍टन में पाकिस्‍तान के खिलाफ 171 रन की साझेदारी की थी. इस मामले में दूसरे नंबर पर दक्षिण अफ्रीका के ग्रीम स्मिथ और एल. बोसमेन हैं जिन्‍होंने वर्ष 2009 में सेंचुरियन में इंग्‍लैंड के खिलाफ 170 रन जोड़े थे. इसके बाद पहले विकेट की अगली तीन साझेदारियां रोहित के नाम पर हैं.शॉर्टर फॉर्मेट के क्रिकेट में रोहित शर्मा का जवाब नहीं… टीम इंडिया के इस ओपनर ने कल आयरलैंड के खिलाफ पहले टी20 मैच में इस बात को एक बार फिर साबित किया. वनडे मैचों में तीन दोहरे शतक जमा चुके रोहित ने इस मैच में मात्र 45 गेंदों पर 97 रन की बेहतरीन पारी खेली जिसमें आठ चौके और पांच छक्‍के शामिल रहे. यही नहीं, रोहित ने इस दौरान शिखर धवन के साथ पहले विकेट के लिए 160 रन की साझेदारी की. यह टी20 क्रिकेट में पहले विकेट के लिए भारत की ओर से दूसरी सबसे बड़ी (ओवरआल चौथी सबसे बड़ी ) साझेदारी है. मजे की बात यह है कि टी20 इंटरनेशनल में अब तक पहले विकेट के लिए जो पांच सबसे बड़ी साझेदारियां हुई हैं उनमें से तीन में रोहित शर्मा का नाम शामिल है.

रोहित शर्मा ने नहीं देखा था जीत का छक्का, ड्रेसिंग रूम में जाकर कर रहे थे ऐसा

वर्ष 2017 में इंदौर में उन्‍होंने श्रीलंका के खिलाफ केएल राहुल के साथ पहले विकेट के लिए 165 रन जोड़े. इस दौरान रोहित शर्मा ने महज 43 गेंदों पर 12 चौकों और 10 छक्‍कों की मदद से 118 रन ठोक डाले. उनका स्‍ट्राइक रेट 274.41 का रहा. केएल राहुल ने इस मैच में 49 गेंदों पर 89 रन की पारी खेली थी.  आयरलैंड के खिलाफ पहले टी20 में रोहित ने शिखर धवन के साथ 160 रन जोड़े. यही नहीं, रोहित, शिखर धवन के साथ न्‍यूजीलैंड के खिलाफ दिल्‍ली में पहले विकेट के लिए 158 रन की साझेदारी कर चुके हैं. वर्ष 2017 में खेले गए इस मैच में रोहित और शिखर, दोनों ने 80-80 रन बनाए थे. जहां रोहित के 80 रन 55 गेंदों पर छह चौकों और चार छक्‍कों की मदद से आए थे, वहीं धवन ने इसके लिए 52 गेंदों का सामना कर 10 चौके और दो छक्‍के जड़े थे. रोहित एक बार क्रीज पर सेट होने के बाद बड़े-बड़े शॉट खेलने में माहिर हैं. कप्‍तान विराट कोहली एक बार कह भी चुके हैं कि रोहित के पास दूसरे बल्‍लेबाजों के मुकाबले गेंद खेलने के लिए दो से तीन सेकंड का अधिक समय होता है. उनकी टाइमिंग जबर्दस्‍त है और इसी कारण वे आसानी से गेंद को बाउंड्री के बाहर उड़ाने में सक्षम होते हैं. शॉर्टर फॉर्मेट में बड़े स्‍कोर बनाने की इस काबिलियत के कारण रोहित शर्मा को ‘हिटमैन’ का नाम मिला है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *