आगामी आठ अप्रैल को पीएम मोदी श्रीनगर गढ़वाल में एक चुनावी सभा को करेंगे संबोधित , जिसके दौरान भीषण रैली का आयोजन भी होगा

 उत्तराखंड गढ़वाल:  उत्तराखंड में लोकसभा चुनाव को लेकर सभीदलों दलों ने  तेजी से कमर कस ली है  वहीँ  उत्तराखंड में  बीजेपी  की पांचों सीटों  में  एक बार फिर परचम लहराने की तैयारी कर रही है तो वहीं कांग्रेस अपनी खोई हुई सत्ता को पाने की तैयारी कर रही है. यहीं कारण है कि कांग्रेस राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी की रैली के बाद बीजेपी भी गढ़वाल में पीएम नरेंद्र मोदी की बड़ी रैली कराने की तैयारी कर रही है.गढ़वाल मंडल मुख्यालय पौड़ी में रविवार को भाजपा पौड़ी लोक सभा चुनाव प्रबंधन समिति की बैठक आयोजित गई, जिसमें लोक सभा क्षेत्र के अधीन आने वाले 14 विधान सभा क्षेत्रों के लिए 14 प्रभारियों को तैनाती की गई। बाद में पत्रकारों से बातचीत करते हुए लोक सभा सीट के प्रभारी कैलाश शर्मा ने कहा कि 22 मार्च को पार्टी प्रत्याशी द्वारा नामांकन पत्र भरा जाएगा। कहा कि चुनावी सभा के तहत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आगामी आठ अप्रैल को श्रीनगर में एक चुनावी सभा को भी संबोधित करेंगे
कोटद्वार रोड़ स्थित एक निजि होटल में पौड़ी लोक सभा सीट प्रभारी कैलाश शर्मा ने कहा कि चुनाव को लेकर तैयारियां शुरु कर दी गई है। कहा कि लोक सभा सीट का मुख्य चुनाव कार्यालय पौड़ी में खुलेगा। कहा बेहतर तरीके से प्रचार अभियान चले इसके लिए विभिन्न प्रकार की टीमों का गठन कर कार्यकर्ताओं को प्रमुख, सह प्रमुख के रूप  में जिम्मेदारियां सौंप दी गई है।

पौड़ी लोक सभा सीट प्रभारी ने कहा कि इस बार पन्ना प्रमुख भी बनाए गए हैं तथा आगामी 24 मार्च को गौचर में उनका सम्मेलन आयोजित होगा। चौदह विधान सभा में से तेरह विधान सभा क्षेत्र के विधायकों की भी चुनाव में अहम भूमिका सौंपी गई है। जिसके तहत हर विधान सभा क्षेत्र में भी चुनाव कार्यालय खोला जयेगा।

बनाये गए विधान सभा प्रभारी 

  • बद्रीनाथ- राकेश भंडारी।
  • कर्णप्रयाग- समीर मिश्रा।
  • थराली- सुरेंद्र सिंह नेगी।
  • रुद्रप्रयाग- दरम्यान जखवाल।
  • केदारनाथ- शकुंतला जगवाण।
  • रामनगर- आंनद सिंह बिष्ट।
  • देवप्रयाग- रघुवीर सिंह पवांर।
  • नरेंद्र नगर- मदन सिंह रावत।
  • श्रीनगर- संपत नेगी।
  • पौड़ी- जगत किशोर बड़थ्वाल।
  • चौबट्टाखाल- गंगा सिंह।
  • लैंसडोन- मोहन सिंह नेगी।
  • यमकेश्वर- विजय सिंह।
  • कोटद्वार- संग्राम सिंह भंडारी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *