388 रन पर सिमटी बांग्लादेश की पारी

हैदराबाद टेस्ट में बांग्लादेश की पहली पारी 388 रन पर खत्म हो गई. हालांकि भारत ने फॉलोआन न देते हुए अपनी दूसरी पारी शुरू करने का फैसला किया. आर. अश्विन ने कप्तान मुशफिकुर रहीम (127 रन) को आउट कर बांग्लादेश को आखिरी झटका दिया. यह टेस्ट में उनका 250 वां विकेट रहा. भारत को पहली पारी में 299 रन की बढ़त मिली. भारत ने अपनी पहली पारी 687/6 रन पर घोषित की थी. लंच तक भारत ने अपनी दूसरी पारी में बिना नुकसान एक रन बनाया था.

ऐसे समाप्त हुई बांग्लादेश की पारी
भुवनेश्वर कुमार ने चौथे दिन भारत को पहले ही ओवर में सफलता दिलाई. मेहदी हसन (51) को उन्होंने बोल्ड कर दिया. बांग्लादेश ने अपने स्कोर में एक भी रन का इजाफा नहीं किया था. 322 रन के स्कोर पर उसे सातवां झटका लगा. इसके बाद उमेश यादव ने तैजुल इस्लाम (10 रन) को आउट कर बांग्लादेश को आठवां झटका दिया. नौवें विकटे के रूप में तस्किन अहमद (8) को रवींद्र जडेजा ने पैवेलियन भेजा.

फॉलोऑन बचाने के लिए बांग्लादेश को 488 रन बनाने थे
हैदराबाद टेस्ट के चौथे दिन विराट ब्रिगेड के समक्ष बांग्लादेश को फॉलोऑन कारने का लक्ष्य था. उसने मेहमान टीम के बाकी बचे विकेट लंच से पहले ही चटका दिए. इकलौते टेस्ट में कप्तान मुशफिकुर रहीम और मेहदी हसन ने सातवें विकेट के लिए 87 रन की साझेदारी कर टीम को सहारा दिया. तीसरे दिन का खेल समाप्त होने तक मेहमान टीम ने 322/6 रन बनाए थे. बांग्लादेश को फॉलोऑन बचाने के लिए चौथे दिन 166 रन बनाने की जरूरत थी.

मुशफिकर-मेहदी क्रीज पर संघर्ष किया
235 रन पर बांग्लादेश के छह विकेट गिर जाने के बाद ऐसा लगा था कि मेहमान टीम की पारी का अंत निकट है. लेकिन इसके बाद मुशफिकुर रहीम ने कप्तानी पारी दिखाई. उन्हें मेहदी हसन का साथ मिला और वे दोनों बांग्लादेश की पारी को 300 के पार ले जाने में सफल रहे.इससे पहले बांग्लादेशी स्टार ऑलराउंडर शाकिब उल हसन (82 रन ) को आर. अश्विन ने आउट किया था.कप्तान मुशफिकुर रहीम के साथ उन्होंने पांचवें विकेट कि लिए 107 रन की साझेदारी की.

लगातार झटकों से बैकफुक पर आया बांग्लादेश
हैदराबाद टेस्ट के तीसरे दिन के शुरुआती सत्र में भारत को विकेट हासिल करने के लिए ज्यादा इंतजार नहीं करना पड़ा था. बांग्लादेश के अनुभवी बल्लेबाज तमीम इकबाल (25) रन आउट हो गए. मेहमान टीम को 44 रन पर दूसरा झटका लगा. इसके बाद मोमिनुल हक (12) भी ज्यादा कुछ नहीं कर पाए. उमेश यादव ने उन्हें एलबीडब्ल्यू किया. जबकि महमूदुल्लाह (28 रन) को इशांत शर्मा ने एलबीडब्ल्यू कर बांग्लादेश को चौथा झटका दिया. इससे पहले उमेश यादव ने टीम इंडिया को पहली सफलता दिलाई, जब उन्होने सलामी बल्लेबाज सौम्य सरकार (15 रन) को अपने पहले ही ओवर में विकेट के पीछ ऋद्धिमान साहा के हाथों कैच कराया. बांग्लादेश को पहला झटका 38 के स्कोर पर लगा.

भारत हैदराबाद टेस्ट के दूसरे दिन 687/6 के स्कोर पर अपनी पहली पारी घोषित की थी. कप्तान विराट कोहली (204 रन) के दोहरे शतक के अलावा मुरली विजय (108 रन) और ऋद्धिमान साहा (नाबाद 106) के शतकों की बदौलत भारत ने यह रिकॉर्ड स्कोर खड़ा किया, जो बांग्लादेश के खिलाफ उसका सर्वाधिक स्कोर है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *