बिहार में लू लगने से 44 लोगों की मौत, 45.8 डिग्री सेल्सियस तापमान पहुंचा

बिहार में लू लगने से इस गर्मी के मौसम में अब तक कुल 44 लोगों की मौत हो चुकी है। आपदा प्रबंधन विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार, बिहार में लू लगने से कल तक 44 लोगों की मौत हो चुकी है। पीटीआई के अनुसार,औरंगाबाद जिले में 22, गया में 20 और नवादा में दो लोगों की मौत लू लगने से हुई है। मौसम विभाग के पटना कार्यालय से प्राप्त जानकारी के मुताबिक, राज्य की राजधानी में शनिवार को अधिकतम तापमान 45.8 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया जो कि सामान्य से 9.2 डिग्री सेल्सियस अधिक था।

पटना में शनिवार को अधिकतम तापमान 2009 के बाद के पिछले 10 वर्षों के रिकॉर्ड को पार कर गया। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इन मौतों पर दुख जताया है और पीड़ितों के परिजनों को 4 लाख रुपया का मुआवजा देने की घोषणा की है। सरकार ने मृतकों की बढ़ती संख्या के मद्देनजर लू को लेकर चेतावनी भी जारी की है और लोगों को दिन के समय बाहर जाने पर अपना ध्यान रखने की सलाह दी है।

पटना शहर में शनिवार को न्यूनतम तापमान 31.0 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो सामान्य न्यूनतम तापमान से 4.2 डिग्री अधिक था। भीषण गर्मी के मद्देनजर पटना शहर में 19 जून तक के लिए स्कूलों को बंद करने का आदेश शनिवार को जारी किया गया। बिहार के अन्य जिलों गया, भागलपुर और पूर्णिया में शनिवार को अधिकतम तापमान क्रमश: 45.2 डिग्री सेल्सियस, 41.5 डिग्री सेल्सियस और 35.9 डिग्री सेल्सियस रहा था।

मौसम विभाग ने पटना, गया और भागलपुर जिलों में रविवार को भी भीषण गर्मी रहने और पूर्णिया जिले में बारिश अथवा गरज या धूल के साथ आंशिक रूप से बादल छाए रहने का पूर्वानुमान जताया है। विभाग के अनुसार बिहार में दक्षिण-पश्चिम मॉनसून के 22-23 जून तक आने की उम्मीद है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *