अब टिहरी झील में भी स्क्रीनिंग लुफ्त उठाएंगे लोग , पर्यटन के लिए बेशुमार है ये झील

अगर आप भी इन छुट्टियों में घूमने का मन बना रहे है तो ये खूबसूरत जगह जाइये   इस खूबसूरत जगह का  टिहरी झील का रूख कर सकते हैं। यहां 44 वर्ग किमी में फैली विशालकाय टिहरी झील में बोटिंग, स्कीइंग, सर्फिंग के साथ जेट स्की आदि वाटर स्पोर्ट्स का लुत्फ उठाया जा सकता है। देश के सबसे ऊंचे टिहरी बांध की 44 वर्ग किमी में फैली विशालकाय टिहरी झील पर्यटन विकास की असीम संभावनाओं को संजोए हुए हैं। वर्ष 2014 में टिहरी झील को पर्यटन से जोड़ने के लिए यहां पहली बार झील महोत्सव का आयोजन किया था। जिसके बाद यहां कोटी कॉलोनी में बोटिंग प्वाइंट का निर्माण कर पर्यटकों के लिए बोटिंग, स्कीइंग, सर्फिंग के साथ जेट स्की आदि वॉटर स्पोर्ट्स की शुरूआत हुई। गर्मियों के सीजन में यहां विशेष रूप दिल्ली एनसीआर व यूपी, पंजाब, हरियाणा आदि क्षेत्रों से पर्यटक टिहरी झील में बोटिंग, स्कीइंग, सर्फिंग, जेट अटैक आदि का लुत्फ उठाने पहुंचते हैं। गर्मियों के सीजन में पहाड़ घूमने का प्लान करने वालों के लिए टिहरी झील बेतहरीन डेस्टिनेशन बनकर उभरती जा रही है।

 बोटिंग शुल्क  
पॉवर बोट-300 से 500 रूपए, जेट स्की-500, जेट बोट-500, स्कीइंग/सर्फिंग-700, सीलिंग बोट-200, बम्फर राइड-500, बनाना राइड-500। टिहरी झील में उक्त बोटिंग शुल्क बोटिंग के प्रकार के अनुसार आधे घंटे से लेकर एक घंटे व एक राउण्ड से लेकर दो राउण्ड के लिए निर्धारित हैं।

टिहरी झील पहुंचने के लिए निकट का रेलवे स्टेशन देहरादून व हवाई अड्डा जौलिग्रांट ऋषिकेश हैं। यहां से पर्यटक बस व टैक्सी द्वारा चंबा पहुंच सकते हैं। चंबा से नई टिहरी होते हुए कोटी कॉलोनी करीब 30 किमी व चंबा से पुरानी टिहरी रोड होते हुए कोटी कॉलोनी करीब 18 किमी दूरी पर है।

टिहरी झील पर्यटकों के लिए बेतहरीन टूरिस्ट डेस्टिनेशन बनकर उभर रही है। गर्मियों के सीजन में हर साल बड़ी संख्या में दिल्ली एनसीआर सहित यूपी, हरियाणा व पंजाब आदि क्षेत्रों से पर्यटक पहुंचते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *