भरत मंदिर इंटर कालेज ऋषिकेश:  2018 में 75 वीं हीरक जयंती मनाई गई 

रत मंदिर इंटर कालेज ऋषिकेश,थी 2018 में 75 वीं हीरक जयंती मनाई गई  ……………..…………………………………………… भरत मंदिर इंटर कालेज ऋषिकेश  उस वक्त

गरीब बच्चों के ठक्कर बापा छात्रावास के लिए भिलंगना नदी से पीठ पर ढोये गए पत्थर और रेत

सुंदरलाल बहुगुणा जन्म से ही कुछ कर दिखाने वाले व्यक्तियों में रहे। वह मात्र 27 वर्ष के थे जब उन्होंने

आदमखोर बाघ को ढेर करने वाले जिम कॉर्बेट की पुण्यतिथि आज

आदमखोर बाघ ने रुद्रप्रयाग में 125 लोगों को और चंपावत में 436 लोगों को निवाला बना दिया था, उन आदमखोर

अमेरिका में अब दिखेगी “रामायण”, प्रदर्शनी 10 अगस्त से शुरू होगी

भारतीय प्रसिद्ध  महाकाव्य ‘रामायण’  अब  अमेरिका के सबसे बड़े कला संग्रहालय ‘द मेट्रोपॉलिटन म्यूजियम ऑफ आर्ट’ में भी दिखने वाला

जनरल लखेड़ा ने कभी नहीं कहा कि, मैंने कश्मीर, पंजाब में युद्ध लड़ा आप सांसद का टिकट दो

जनरल लखेड़ा ने कभी नहीं कहा कि, मैंने कश्मीर, पंजाब में युद्ध लड़ा आप सांसद का टिकट दो  उनका धैर्य

सांसद चुनाव। त्रेपन सिंह नेगी , गोविंद सिंह नेगी।

त्रेपन सिंह नेगी,जी और गोविंद सिंह नेगी जी टिहरी गढ़वाल के  महान नेता हुए। चूंकि दोनो दो दो बार यूपी में

जब श्री ब्रह्मदत्त , ने नेताओं को कुर्ता पायजामा पोशाक का नेता बनाया।

जब श्री ब्रह्मदत्त , ने नेताओं को कुर्ता पायजामा पोशाक का नेता बनाया। ब्रह्मदत्त जी यूपी सरकार में वित्त मंत्री

श्री गुलाब सिंह, पहाड़ का बड़ा राजनेता, 9 बार विधायक रहे

उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड में 1985 में निर्विरोध विधायक चुने जाने का रिकॉर्ड, नेहरू गांधी की तीन पीढ़ी के खास रहे

उत्तराखंड के प्रदीप सिंह खरोला बने सचिव नागरिक उड्डयन

एयर इंडिया के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक प्रदीप सिंह खरोला को सचिव नागरिक उड्डयन नियुक्त किया है।  एक सरकारी आदेश

आजादी से पहले लोक निर्माण मंत्री श्री खुशहाल सिंह रांगड़

टिहरी गढ़वाल राज्य ने कितने बड़े बड़े नेताओं को जन्म दिया, यह काबिले गौर है। खुशहाल सिंह रांगड़ का बॉयोडाटा

20 वीं सदी में इतनी बर्फ, तब 8 वीं सदी से 400 साल तक यह मंदिर बर्फ से दबा रहा होगा , सच लगता है

शीशपाल गुसाईं केदारनाथ: जब 20 वीं सदी में इतनी बर्फ, तब 8 वीं सदी से 400 साल तक यह मंदिर

सेना दिवस 2019 : जब भी युद्ध हुए, उत्तराखंड के सैनिकों-अफसरों ने कायम की मिसाल

सेना में बहादुरी दिखाने के मामले में उत्तराखंड का बड़ा नाम है। जब भी कोई युद्ध हुआ है, तभी उत्तराखंड

मलीदेवल गांव का बेटा विद्यासागर नौटियाल बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी का अध्यक्ष बना।

एक जमाने में राजनीति में सागर जी की तूती बोलती थी। उन्होंने पहले कम्युनिस्ट प्रमुख रहे पीसी जोशी के सानिध्य