चेन्नई 8वीं बार पहुंची फाइनल में,

दिल्ली कैपिटल्स को मात देकर चेन्नई सुपर किंग्स ने आठवीं बार आईपीएल के फाइनल में जगह बनाई है. चेन्नई आईपीएल के इतिहास में सबसे ज्यादा फाइनल खेलने वाली टीम है.

सुपर किंग्स बड़े मैचों में खेलने की आदी है, वह तीन बार आईपीएल का खिताब जीत चुकी है. जबकि चार बार धोनी की सेना उप-विजेता रह चुकी है  चेन्नई सुपर किंग्स ने 2008, 2010, 2011, 2012, 2013, 2015, 2018 और 2019 में फाइनल तक सफर तय किया है. जिसमें से 2010, 2011 और 2018 में उसे खिताबी जीत हासिल हुई है.

चेन्नई सुपर किंग्स के बाद मुंबई इंडियंस का नंबर आता है जिसने पांच बार आईपीएल के फाइनल में जगह बनाई है. मुंबई इंडियंस 2010, 2013, 2015 और 2017 में फाइनल तक सफर तय कर चुकी है. जिसमें से 2010 के आईपीएल फाइनल को छोड़ दें तो बाकी तीन बार उसे खिताबी जीत हासिल हुई है.

चेन्नई सुपर किंग्स के अलावा महेंद्र सिंह धोनी ने भी बड़ा रिकॉर्ड बनाया है. महेंद्र सिंह धोनी सबसे ज्यादा बार आईपीएल फाइनल मैच खेलने वाले खिलाड़ी है. महेंद्र सिंह धोनी रिकॉर्ड 9वीं बार आईपीएल फाइनल खेलेंगे. धोनी राइजिंग पुणे सुपरजायंट्स के खिलाड़ी के तौर पर एक बार फाइनल खेल चुके हैं जबकि वे 8वीं बार चेन्नई सुपर किंग्स के लिए आईपीएल फाइनल मैच खेलेंगे. धोनी के बाद सुरेश रैना आते हैं जिन्हें 7वीं बार आईपीएल फाइनल खेलने का मौका मिला है.

धोनी की बुजुर्ग टीम के सामने अय्यर के युवा, जानें कौन किस पर भारी

चेन्नई सुपर किंग्स और दिल्ली कैपिटल्स के बीच आज विशाखापत्तनम में आईपीएल सीजन 12 का दूसरा क्वॉलिफायर मुकाबला खेला जाएगा. दिल्ली कैपिटल्स के पास पहली बार इस टी-20 लीग के फाइनल में पहुंचने का मौका है जबकि चेन्नई 8वीं बार फाइनल में जगह बना सकती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *