उच्च शिक्षा मंत्री डॉ धन सिंह रावत ने ली कुलपतियों की समीक्षा बैठक

आज दून विश्वविद्यालय स्थित रूसा कार्यालय में वर्चुअल माध्यम से उच्च शिक्षा विभागान्तर्गत राज्य के में विभिन्न विश्वविद्यालयों और महाविद्यालयों में रूसा फेज I और रूसा फेज II अंतर्गत संचालित निर्माण कार्यों की समीक्षा बैठक ली गयी. इस बैठक में रूसा अंतर्गत गतिमान 66 संस्थाओं में से सम्बंधित विश्वविद्यालयों के कुलपति गण, कुलसचिव एवं सम्बंधित महाविद्यालयों के प्राचार्य एवं रूसा नोडल अधिकारी सहित नौ विभिन्न कार्यदायी संस्थाओं के महाप्रबन्धक एवं प्रोजेक्ट मैनेजर उपस्थित थे. बैठक के दौरान प्रत्येक संस्थान में चल रहे निर्माण कार्यों की अद्यतन स्थिति, नवीकरण एवं उच्चीकरण मद में कार्य की अद्यतन स्थिति सहित नयी सुविधाओं में अद्यतन किये गए कार्यों की समीक्षा की गयी तथा इस सम्बन्ध में आ रही समस्याओं के त्वरित निस्तारण हेतु सम्बंधित कार्यदायी संस्था एवं रूसा नोडल अधिकारी को निर्देश दिए गए. समीक्षा के दौरान निर्देश देते हुए कुमाऊँ विश्वविद्यालय, श्रीदेवसुमन उत्तराखण्ड विश्वविद्यालय, दून विश्वविद्यालय सहित राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय बाजपुर, पुरोला, रिखणीखाल,थलीसैण, मुनस्यारी, भिकियासैण, सतपुली, पैठाणी, नैनबाग, उत्तरकाशी आदि महाविद्यालयों के विभिन्न समस्याओं के निराकरण हेतु सम्बन्धित को समुचित निर्देश दिए. इसके साथ सभी प्राचार्यों को राज्य को उच्च शिक्षा के क्षेत्र में उत्तराखण्ड को मॉडल राज्य के रूप स्थापित करने हेतु 14 आधारभूत बिन्दुओं पर गंभीरता से कार्य करने हेतु निर्देशित किया और सभी को यह आश्वस्त किया कि राज्य में उच्च शिक्षा के विकास के निमित्त धन का आभाव नहीं होने दिया जाएगा. सम्बंधित संस्थाध्यक्षों एवं नोडल अधिकारीयों को फ़ास्ट ट्रैक मोड पर काम करते हुए कार्य की गुणवत्ता सुनिश्चित करने पर बल दिया.कार्यदायी संस्थाओं सहित प्राचार्य एवं नोडल अधिकारियों को निर्माण एवं अन्य कार्यों में गुंणवत्ता में किसी भी प्रकार की शिकायत आने पर कार्यवाही के प्रति भी सचेत किया गया. सभी को समयबद्ध तरीके से कार्य पूर्ण करने हेतु निर्देशित किया गया जिससे रूसा फेज III की शुरुआत होने पर उच्च शिक्षा के विकास हेतु राज्य द्वारा उसका अधिकाधिक लाभ लिया जा सके।


बैठक में कुमाऊँ विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. एन. के.जोशी, श्रीदेवसुमन विश्वविद्यालय के कुलपति  पी.पी. ध्यानी, दून विश्वविद्यालय की कुलपति प्रो0 सुरेखा डंगवाल, कुलपति संस्कृत विश्वविद्यालय प्रो. देवी प्रसाद त्रिपाठी, कुलसचिव दून विश्वविद्यालय डॉ. मंगल सिंह मन्द्रवाल, निदेशक उच्च शिक्षा प्रो. कुमकुम रौतेला, संयुक्त निदेशक उच्च शिक्षा डॉ पी. के. पाठक, उप निदेशक डॉ. राजीव रतन, उप निदेशक डॉ. एन. एस. बनकोटी, रूसा राज्य नोडल अधिकारी डॉ. ए.एस. उनियाल, रूसा अच्छादित विभिन्न राजकीय एवं अशासकीय महाविद्यालयों के प्राचार्य, विश्वविद्यालयों एवं महाविद्यालयों के रूसा नोडल अधिकारी, एडुसैट प्रभारी डॉ. विनोद कुमार, रूसा प्रभारी, सहायक निदेशक डॉ. डी.सी. गोस्वामी, डॉ. दीपक कुमार पाण्डेय एवं डॉ. गोविन्द पाठक सहित विभिन्न कार्यदायी संस्थाओं के अधिकारियों ने वर्चुअल माध्यम से बैठक में प्रतिभाग किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *