पीएम नरेंद्र मोदी का विमान गुजरने दे पाकिस्तान, भारत ने किया अनुरोध

भारत ने पाकिस्तान से किर्गिस्तान के बिश्केक जाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विमान को अपने वायु क्षेत्र से गुजरने देने का अनुरोध किया है। मोदी को बिश्केक में 13 जून और 14 जून को शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) शिखर सम्मेलन में भाग लेने जाना है। पाकिस्तान ने बालाकोट में जैश-ए-मोहम्मद के आतंकवादी शिविर पर भारतीय वायु सेना के हमले के बाद 26 फरवरी को अपना वायु क्षेत्र पूरी तरह बंद कर दिया था। तब से उसने कुल 11 में से केवल दो वायु मार्ग खोले और दोनों दक्षिण पाकिस्तान से होकर गुजरते हैं।

एक वरिष्ठ सरकारी अधिकारी ने कहा, ‘हमने पाकिस्तान से प्रधानमंत्री के विमान को अपने एक मार्ग से होकर गुजरने देने का अनुरोध किया है जो अभी तक खुला नहीं है। प्रधानमंत्री को 13 जून और 14 जून को एससीओ शिखर सम्मेलन में भाग लेना है।’ पाकिस्तान ने 21 मई को भारत की तत्कालीन विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को किर्गिस्तान के बिश्केक में एससीओ विदेश मंत्रियों की बैठक में शामिल होने के लिए पाकिस्तानी वायु क्षेत्र से सीधे उड़ान भरने की खास अनुमति दी थी।

दक्षिण पाकिस्तान में दो मार्गों के अलावा पड़ोसी देश का वायु क्षेत्र वाणिज्यिक विमानों के लिए अब भी बंद है। भारतीय वायु सेना ने 31 मई को घोषणा की थी कि बालाकोट हवाई हमले के बाद भारतीय वायु क्षेत्र पर लगाए सभी अस्थाई प्रतिबंध हटा लिए गए हैं।

हालांकि इससे किसी भी वाणिज्यिक एयरलाइन को फायदा मिलने की संभावना नहीं है जब तक पाकिस्तान अपना वायु क्षेत्र नहीं खोलता। पाकिस्तानी वायु क्षेत्र के बंद होने से एयर इंडिया और इंडिगो की अंतरराष्ट्रीय उड़ानें प्रभावित हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *