जौनसार बावर में तैयार हुआ प्रधानमंत्री मोदी का परिधान चोड़ा

कालसी केदारनाथ और बदरीनाथ की यात्रा के दौरान प्रधानमंत्री नरेंन्द्र मोदी का परिधान देश भर में चर्चा का विषय बना हुआ है। खास बात यह है कि प्रधानमंत्री के लिए यह खास परिधान जौनसार बावर के विशेषज्ञ दर्जी रण सिंह ने तैयार किया था।
जौनसार बावर के इस पारंपरिक परिधाम को चोड़ा कहा जाता है। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने देहारदून में इन्वेस्टर्स समिट के दौरान इसे प्रधानमंत्री को भेंट किया था। प्रधानमंत्री दो दिवसीय यात्रा के दौरान शनिवार को जब केदारनाथ गुफा में साधना करके गए और रविवार सुबह साधना करके वापस केदारनाथ मंदिर में दर्शन कर बद्रीनाथ जाने के लिए निकले तो उन्होने जौनसार बावर का पारंपरिक परिधान भूरे रंग का चोड़ा पहना था।प्रधानमंत्री की यात्रा के दौरान ड्यूटी पर तैनात रहे उप निदेशक सूचना उŸाराखण्ड केएस चैहान ने इसकी पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री द्वारा रविवार सुबह पहना गया भूरे रंग का चोड़ा जौसार बावर का पारंपरिक परिधान है। यह चोड़ा प्रधानमंत्री को अक्तूबर 2018 में देहरादून में हुए इन्वेस्टर्स समिट के दौरान मुख्यमंत्री ने भेंट किया था।चैहान ने बताया िकइस परिधान को उन्होंने चकराता के ग्राम ओडा निवासी विशेषज्ञ दर्जी रण सिंह से स्थानीय शुद्ध ऊन से तैयार कराया था।
उल्लेखनीय है कि दशकों पूर्व जब राजीव गांधी प्रधानमंत्री थे और चकराता क्षेत्र के दौरे पर आए थे, तब चकराता के त
त्कलीन विधायक एवं यूपी के मंत्री गुलाब सिंह ने उन्हें सफेद रंग का चोड़ा और बावरी टोपी पहनाई थी। स्थानीय अधिवक्ता क्षमा शर्मा तरूण संध खत लखवाड़ के पूर्व अध्यक्ष जितेंद्र सिहं चैहान, यशपाल सिंह चैहान ने प्रधानमंत्री की धार्मिक यात्रा के दौरान जौनसार बावर क्षेत्र का पारंपरिक परिधान पहने जाने को क्षेत्र के लिए गर्व का विषय बताया हैै।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *