वैक्सीनेशन के लिए भटक रहे युवा, नहीं कर पा रहे हैं रजिस्ट्रेशन

प्रदेश में 18 साल से अधिक उम्र के युवाओं को वैक्सीन लगवाने में कई दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। दरअसल, इस वर्ग के युवाओं को वैक्सीन लगाने के लिए रजिस्ट्रेशन करवाना जरूरी है लेकिन इस रजिस्ट्रेशन के लिए युवाओं को बेहद ज्यादा पसीना बहाना पड़ रहा है, ऐसा इसलिए क्योंकि पोर्टल पर युवाओं का रजिस्ट्रेशन नहीं हो पा रहा है हालांकि सरकार की तरफ से शाम 4 बजे तक पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन किए जाने की बात कही जा रही है लेकिन हकीकत यह है कि वेबसाइट पर भारी दबाव के कारण रजिस्ट्रेशन नहीं हो पा रहा है।10 सेंटर पर युवाओं का वैक्सीनेशनकई युवा इस बात को लेकर शिकायत कर चुके हैं कि रजिस्ट्रेशन करने के दौरान वह सभी निर्देशों का पालन कर रहे हैं पर इसके बावजूद भी रजिस्ट्रेशन या शेड्यूल उन्हें नहीं मिल पा रहा है उधर जिन युवाओं के रजिस्ट्रेशन हुए भी हैं, उन्हें सेंटर की जानकारी नहीं मिल पा रही है इस कारण युवा वैक्सीनेशन नहीं करवा पा रहे हैं हालांकि ऐसा नहीं है कि कोई भी युवा वैक्सीन ना लगवा पाया हो, फिलहाल 10 सेंटर्स पर युवाओं के लिए वैक्सीनेशन का काम चल रहा है.ये भी पढ़ेंः प्रदेश में कोरोना मरीजों की संख्या में लगातार बढ़ोत्तरी, 119 की हुई मौतcowin.gov.in पर करें। रजिस्ट्रेशनयुवा cowin.gov.in की वेबसाइट पर रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं इसी रजिस्ट्रेशन के मद्देनजर करीब 2500 युवाओं को वैक्सीन लगाई जा चुकी है हालांकि जिस रफ्तार से राज्य में युवाओं को वैक्सीन लग रही है, ऐसे में अंदाजा लगाया जा सकता है कि युवाओं को वैक्सीन लगने में 1 साल से भी ज्यादा का वक्त लग सकता है ऐसा इसलिए क्योंकि प्रदेश में 18 से 45 साल के बीच के लोगों की जनसंख्या 50 लाख है.मानसिक अस्पताल में 16 संक्रमण केसदूसरी तरफ कोरोना के कई नए और चौंकाने वाले मामले भी सामने आ रहे हैं. इसमें सेलाकुई के मानसिक अस्पताल में भी 16 लोगों को कोरोना होने की खबर सामने आई है. खास बात यह है कि इसमें न केवल मानसिक अस्पताल के स्टाफ को कोरोना संक्रमण हुआ है, बल्कि 8 मरीज भी संक्रमित हुए हैं बताया जा रहा है कि काफी समय से यहां पर मरीजों और स्टाफ में संक्रमण के लक्षण दिखाई दे रहे थे।लेकिन अस्पताल प्रबंधन की तरफ से सूचना को सार्वजनिक नहीं किया गया।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *