नहीं रहे भाजपा के वरिष्ठ नेता बच्ची सिंह रावत… 

भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता  बची सिंह रावत को शनिवार 17 अप्रैल को AIIMS में भर्ती कराया गया था। उन्हें सांस लेने में तकलीफ थी जिस कारण उन्हें एयर एंबुलेंस के जरिए हल्द्वानी से AIIMS लाया गया  और इमरजेंसी वार्ड में भर्ती कराया गया था। डॉक्टरों द्वारा बताया गया  कि वो फेफड़े के संक्रमण से पीड़ित थे। अल्मोड़ा रानीखेत के पाली गांव में जन्मे बच्ची सिंह रावत पहले भाजपा प्रदेश अध्यक्ष पद पर रहने के सिवा वे पूर्व में केन्द्रीय मंत्रिमंडल का हिस्सा भी रहे चुके थे। वह केंद्रीय रक्षा राज्य मंत्री और केंद्रीय विज्ञान और प्रौद्योगिकी राज्य मंत्री भी रह चुके थे।

सांसद, विधायक और मंत्री होना कोई बड़ी बात नहीं है बड़ी बात है तो इंसानियत, विनम्रता, व्यवहार, सौम्यता, सादगी में कर्म करना। इन्हीं गुणों के धनी रहे  बच्ची सिंह रावत जी को श्रद्धांजलि। उत्तराखण्ड राजनीति का बड़ा नुकसान हुआ है आज। वह छद्म की राजनीति से बहुत दूर रहे। जब वह अटल बिहारी वाजपेयी जी की सरकार में केंद्र में विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी राज्य मंत्री थे, तो तब वह प्रताप इंटर कॉलेज में एक पत्रकार कार्यशाला में शामिल होने आए थे। तड़क-भड़क की राजनीति से दूर शांति से बैठे रहे। वह सचमुच ठेठ पहाड़ी नेता दिखते थे। जो अब दिखाई नहीं देंगे। लेकिन स्मृतियों और इतिहास में सदैव रहेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *