ग्रामपंचत स्तर पर सैनिटाइजेशन का कार्य युद्ध स्तर पर निरंतर जारी

जिलाधिकारी इवा आशीष श्रीवास्तव के दिशा निर्देशों में विकास विभाग के तत्वाधान में कोरोना वायरस (कोविड-19) के प्रति ग्राम पंचायत स्तर पर एक ओर जहां सैनिटाइजेशन का कार्य युद्ध स्तर पर चल रहा है वहीं उपजजिलाधिकारियो के नेतृत्व में गांव-गांव कोविड के प्रति जनजागरूकता को लेकर जनपद के राजस्व उपनिरीक्षकों ने भी कमर कस ली है। 

सोमवार को तहसील नैनबाग क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम पंचायत सेंदुल में राजस्व विभाग की टीम द्वारा ग्रामीणों को कोरोना के प्रति जागरूक किया गया वहीं ग्रामीणों को सामाजिक दूरी, मास्क के महत्व, साफ-सफाई सहित अन्य जानकारी जानकारी दी गई। इस दौरान राजस्व विभाग कर्मियों को अपने बीच पाकर ग्रामवासियों ने टीम को धन्यवाद भी ज्ञापित किया।

इसी प्रकार तहसील गजा के अंर्तगत ग्राम सोंदाड़ी में भी ग्रामीणों को कोरोना के चलते अपने व्यवहार में परिवर्तन लाने को लेकर जागरूक किया गया। 

 

तहसील प्रतापनगर के अंर्तगत ग्राम भौनियाडा में जनजागरूकता की कमान राजस्व उपनिरीक्षक सिलोली ने संभाली। इस दौरान राजस्व उपनिरीक्षक द्वारा कोविड-19 से संक्रमित व्यक्तियों के घर -घर जाकर दावा की किट का वितरण एवं उसके उपयोग की विधि के साथ-साथ कोविड-19 से सुरक्षा हेतु आवश्यक सुझाव दिए गए।

 

तहसील टिहरी के अंतर्गत ग्राम छाती में कॉन्टिनमेन्ट जोन में ग्रामीणों को आवश्यक दवाओं की किटों के वितरण के साथ ही सुरक्षा संबंधी जानकारी दी गई। कोरोना से सुरक्षा के दृष्तिगत सैनिटाइजेशन का महत्व और उस पर अमल को लेकर पालिका/पंचायत/ कर्मियों द्वारा भी मिशन मोड़ पर कार्य किया जा रहा है। जिसके तहत बाजार बंदी के दिन नगरों के सम्पूर्ण क्षेत्रो यथा गली, मुहल्लों व सर्जनिक स्थानों पर निरंतर सैनिटाइजेशन का कार्य पूरे मनोयोग के साथ किया जा रहा है। इसी प्रकार जिला पंचायत द्वारा कस्बो व स्थानीय बाजरों में अनवरत सफाई अभियान चलाया गया है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *