उत्तराखंड के तीन युवा तेलंगना से पास आउट होकर सैन्य अधिकारी बने

मिलिट्री कालेज ऑफ इलेक्ट्रॉनिक्स एंड मैकेनिकल इंजीनियरिंग, सिकंदराबाद (तेलंगाना) की पासिंग आउट परेड में उत्तराखंड देहरादून के तीन युवा पासआउट होकर भारतीय सेना की ईएमई ब्रांच में अधिकारी (लेफ्टिनेंट) बने हैं। दिव्यांश जोशी, मनुज चमोली व शेखर सती ने कड़ी मेहनत और लगन से अपने सपनों को साकार कर जिले और प्रदेश का नाम रोशन किया है। तेलंगना से तीनों एक साथ पासआउट हुए, और पूरे देश में उत्तराखंड का एक बार फिर डंका बजा दिया, यहां से पासआउट होने वाले 28 कैडेट में तीन उत्तराखंड से हैं। तीनों ही देहरादून के रहने वाले हैं।

लेफ्टिनेंट दिव्यांश ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा दून इंटरनेशनल स्कूल से पूरी की। उनके पिता भुवन चंद्र जोशी उत्तराखंड शासन में प्रथम श्रेणी के अधिकारी हैं जबकि माता अनीता जोशी गृहणी हैं। दिव्यांश के मन में बचपन से ही सेना में जाने की लगन थी उन्होंने बिना किसी ट्रेनिंग एवं कोचिंग के अपनी मेहनत के बल पर यह सफलता प्राप्त की है।

वहीं,  मनुज चमोली देहरादून के क्लेमेंटाउन के निवासी हैं। उनके पिता प्रमोद कुमार भारतीय वायु सेना से सेवानिवृत्त हैं। उनकी बहन हिमानी मेजर हैैं। मनुज ने भी पिता के नक़्शे कदम पर चलते हुए परिवार की सैन्य परम्परा को आगे बढ़ाया है।

देहरादून के ही निवासी लेफ्टिनेंट शेखर सती भी सेना में अफसर बने शेखर देहरादून जीएमएस रोड के निवासी हैं। उनके पिता गिरीश चंद्र सती डीआरडीओ, जबकि मां पुष्पलता बैैंक कर्मी हैं। दोनों को अपने होनहार बेटे की सफलता पर गर्व है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *