विकासनगर विधानसभा क्षेत्र की लगभग 100 करोड़ लागत की विभिन्न योजनाओं का लोकार्पण तथा शिलान्यास

मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने शुक्रवार को विकासनगर में विकासनगर विधानसभा क्षेत्र की लगभग 100 करोड़ लागत की विभिन्न योजनाओं का लोकार्पण तथा शिलान्यास किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि विकासनगर-हर्बटपुर में सीवर लाईन व सफाई की योजना बनाई जायेगी। छोटा पत्थर, यमुना नहर  से कुमेट तक लिफ्ट सींचाई योजना पूर्ण की जायेगी। विकासनगर से कुन्माड़ी एन एच मार्ग का सुदृढ़ीकरण किया जायेगा। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने सिंचाई विभाग के अन्तर्गत जिन योजनाओं का  शिलान्यास व लोकार्पण किया उनमें नाबार्ड के अन्तर्गत विकासखण्ड विकासनगर के ग्राम पपडियान, तौलीभूड लांघा, ग्राम पुष्टा के लोअर पीपलसार एवं अपर रूद्रपुर ग्रामों के स्प्रिंकलर आधारित 1611.88 लाख लागत की लिफ्ट सिंचाई योजना, नाबार्ड के अन्तर्गत जनपद देहरादून के विकासनगर विकासखण्ड में 1155.06 लाख लागत की कटापत्थर नहर का जीर्णोंद्धार एवं लाईनिंग की योजना, नाबार्ड मद के अन्तर्गत जनपद देहरादून के विकासनगर विकासखण्ड में 179.40 लाख लागत की क्षतिग्रस्त बंड़वा नहर के पुनर्निर्माण की योजना, राज्य सैक्टर के अन्तर्गत जनपद देहरादून के विकासनगर विकासखण्ड में 72.59 लाख लागत की टी-स्टेट से विकासनगर तहसील के मध्य उदियाबाग नाले से जल निकासी की योजना का शिलान्यास तथा नाबार्ड मद के अन्तर्गत जनपद देहरादून के विकासनगर विकासखण्ड में 622.82 लाख लागत की ढकरानी नहर बाईपास मार्ग के सुदृढ़ीकरण की योजना का लोकार्पण शामिल हैं।
मुख्यमंत्री द्वारा इसके अतिरिक्त राज्य योजना के अन्तर्गत विकासनगर क्षेत्र में जिन मोटर मार्गों का शिलान्यास किया गया उनमें     नगरपालिका हर्बटपुर के वार्ड नं0 2 में (आदर्श विहार के आन्तरिक) मार्ग का पुनः निर्माण व सुदृढ़ीकरण कार्य ( लागत 149.18 लाख)।   जीवनगढ़ में कैनाल रोड से सांई मन्दिर तक मार्ग निर्माण तथा एन.एच. 507 से गौरी शंकर मंदिर होते हुए जकारिया मस्जिद तक मार्ग के सुदृढ़ीकरण का कार्य। (लागत 44.39 लाख)।   विकास नगर डाक पत्थर रोड से नवाबगढ़ होते हुए शक्ति नहर तक एवं जकारिया मस्जिद के आगे से वाल्मिकी मंदिर डाकपत्थर मार्ग तक लिंक मार्ग तथा शक्ति नहर बाईपास से चन्द्र मोहन के घर तक मार्ग के सृदृढ़ीकरण का कार्य। (लागत 154.37 लाख)।      बरोटीवाला अम्बाड़ी मार्ग का कार्य (लागत 258.63 लाख)।       ग्राम पंचायत लम्बरपुर में जामनखाता मुख्य मार्ग से खेड़ा बाबा एवं प्रताप चन्द की गौशाला तक सम्पर्क मार्ग एवं ग्राम पंचायत बालूवाला में लांघा मार्ग से प्राईमरी स्कूल तक सम्पर्क मार्ग व लांघा मार्ग से रफीक व लियाकत आदि के घर तक सम्पर्क मार्ग का निर्माण कार्य। (लागत 124.60 लाख)। ग्रामसभा बाड़वाला से राजस्व ग्राम राजावाला तक सम्पर्क मार्ग एवं केदारावाला चौक से शहीद के घर तक तथा केदारावाला चौक से बस स्टैण्ड तक सम्पर्क मार्ग का निर्माण कार्य (द्वितीय चरण)। (लम्बाई 2.914 किमी लागत 196.95 लाख)।    बरोटीवाला विकासनगर मार्ग के कि.मी. 4.00 से उदयाबाग तक एवं वार्ड नं 2 में मुख्य से शिव मंदिर तथा आशाराम पैन्यूली आदि के घर तक सम्पर्क मार्ग का निर्माण (लागत 189.41 लाख)शामिल हैं।
मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि प्रदेश के समग्र विकास के लिए राज्य सरकार प्रयासरत है। प्रदेश के विकास के लिए समाज के हर वर्ग के लोगों से सुझाव लेकर सरकार कार्य कर रही है। अभी रानीपोखरी में 22वीं नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी का शिलान्यास किया गया। डोईवाला में सीपैट की कक्षाएं शुरू हो गई हैं। वहां पढ़ने वाले बच्चों को सौ फीसदी प्लेसमेंट मिलेगा। पिछले दिनों मोदी जी ने वीडिओ कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए किच्छा व लालढांग में दो नए मॉडल डिग्री कॉलेजों व पौड़ी के पैठाणी में प्रदेश के पहले वोकेशनल कॉलेज का शिलान्यास किया है। इन संस्थानों के लिए बजट भी स्वीकृत किया जा चुका है। ये तमाम कोशिशें प्रदेश के लिए न केवल रोजगारपरक शिक्षा में मील का पत्थर साबित होगी। बल्कि उत्तराखंड को उच्च शिक्षा का हब बनाने में भी मददगार होंगी। पिछले दिनों प्रधानमंत्री जी ने राज्य समेकित सहकारी विकास परियोजना की शुरुआत की है। जिससे प्रदेश के लगभग 55 हजार युवा रोजगार से जुड़ सकेंगे। उत्तराखण्ड में जल्द ही साइंस सिटी बनाई जायेगी। साइंस सिटी बनाने के लिए केन्द्र से स्वीकृति मिल चुकी है। साइंस सिटी के लिए सुद्धोवाला में 26 एकड भूमि का अधिग्रहण किया जा चुका है। इससे बच्चो को विज्ञान के आधुनिक तौर-तरीको की जानकारी के साथ ही अन्वेषण करने का मौका मिलेगा।
 मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार प्रदेश के युवाओं को रोजगार उपलब्ध कराने के लिए प्रयासरत है।  विभिन्न रोजगारपरक नीतियों और योजनाओं के माध्यम से हमने हर स्तर पर रोजगार सृजन के प्रयास किए हैं। युवाओं को राज्य की प्रगति से जोड़ने के उद्देश्य से 06 मार्च  को परेड ग्राउण्ड में युवा उŸाराखण्ड उद्यमिता एवं रोजगार की ओर कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें 14 हजार से अधिक छात्र-छात्राओं ने प्रतिभाग किया व 52 कॉलेजों के 13 हजार से अधिक छात्र वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जुड़े। छात्र-छात्राओं से संवाद भी किया गया। उन्होंने कहा कि पिछले दो सालों में 1137 डॉक्टरों की भर्ती की गई। स्वास्थ्य, शिक्षा, पलायन को रोकने व स्वरोजगार की ओर राज्य सरकार द्वारा विशेष ध्यान दिया जा रहा है।  इस अवसर पर मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने महिला दिवस के अवसर पर विभिन्न महिलाओं को सम्मानित भी किया।
इस अवसर पर विधायक मुन्ना सिंह चौहान ने कहा कि मुख्यमंत्री उन्ही योजनाओं की घोषणा करते है जो पूर्ण हो सके। यह मुख्यमंत्री की बेहतर कार्यप्रणाती का द्योतक है। इसका यह भी उदाहरण है कि विकास नगर क्षेत्र के लिए की गई घोषणायें 90 प्रतिशत पूर्ण हो चुकी है। उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र के लिए 30 करोड़ की पेयजल योजनाये स्वीकृत की है। दो साल के अन्दर इस क्षेत्र में विकास के नये द्वार खुले है। क्षेत्र की बदहाल सड़कों का सुद्रढीकरण हुआ है। मुख्यमंत्री ने इस क्षेत्र की समस्याओं का निराकरण कर ….इस क्षेत्र के आर्थिक गतिविधि का केन्द्र बनाने में भी मदद की है। उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र में सड़कों व पुलों के निर्माण से विकास के नये द्वार खुलेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *